छावनी परिषद इलाहाबाद
रक्षा मंत्रालय, भारत सरकार

उपनियम

इलाहाबाद छावनी में आवागमन

रक्षा विभाग
छावनियों - विनियम
नई दिल्ली, 26 मई 1945
अधिसूचना

संख्या 28/3/जी/सी&एल/45. इलाहाबाद अनुभाग 282 और छावनी अधिनियम की धारा 283, 1924 (1924 का द्वितीय) के खंड (4) द्वारा प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए और सुपर में छावनी बोर्ड द्वारा तैयार किए इलाहाबाद छावनी में यातायात के विनियमन या निषेध के लिए निम्नलिखित 30 मार्च 1925 दिनांक नगरपालिका विभाग, No.866/XI-36C, में संयुक्त प्रांत की सरकार की अधिसूचना के साथ प्रकाशित उपनियमों की धारा को मंजूरी दी, सामान्य जानकारी, वही पहले प्रकाशित किया गया है, के लिए प्रकाशित किया जाता है उप - धारा (1) ने कहा कि अधिनियम की धारा 284, अर्थात् के रूप में आवश्यक द्वारा और केन्द्र सरकार द्वारा की पुष्टि की:-

इलाहाबाद छावनी में आवागमन के विनियमन या निषेध के लिए उपनियम

  1. अठारह वर्ष से कम उम्र का कोई भी व्यक्ति मोटर वाहन ड्राइव नही कर सकता है, और पंद्रह साल से कम उम्र का कोई व्यक्ति किसी भी तरह का जानवर द्वारा तैयार या यांत्रिक शक्ति द्वारा चालित वाहन ड्राइव नही कर सकता है| 

  2. प्रत्येक व्यक्ति जो किसी वाहन को ड्राइव करता है अथवा चलाता है और प्रत्येक व्यक्ति जो किसी जानवर का मालिक है, वह वास्तविक आवश्यकता के मामले में छोड़कर, किसी भी सड़क से गुजर रहा हो : -

    1. बाईं ओर रखें जब विपरीत दिशा से वाहन या पशु गुजर रहे हो और

    2. दाईं ओर रखें जब एक वाहन या पशु उसी दिशा से आ रहे हो जिससे पूर्व में आप आये थे |

  3. कोई पशु या वाहन लापरवाह तरीके से किसी भी गली में, सडक पर संचालित नही किया जाएगा |

  4. छावनी परिशद की सीमा के अंतर्गत जिस सडक के किनारे वाहन यातायात प्रतिबंध का नोटिस प्रदर्शित होता है उस सीमा में कोई भी व्यक्ति वाहन ड्राइव नहीं कर सकता है |

  5. कोई भी पशु या वाहन बिना उचित नियंत्रण के सड़क पर नही छोडा जाना चाहिये |

  6. छावनी बोर्ड द्वारा जारी सार्वजनिक नोटिस में निषिद्ध किये गये छेत्र में कोई भी जानवर, किसी भी सड़क पर व्यायाम के लिए प्रशिक्छित नहीं किया जायेगा |

  7. कोई व्यक्ति नही : -

    1. कोई भी व्यक्ति किसी भी प्रकार के वाहन को (जानवरो के साथ अथवा बिना जानवरो का वाहन) लोडिंग या अनलोडिंग के लिए लंबे समय तक खडा करके किसी भी सड़क में बाधा पैदा न करे, अथवा

    2. किसी भी सड़क में बाधा पैदा करने के लिए किसी भी वाहन या पशु को न छोडे अथवा

    3. कोई भी व्यक्ति किसी भी सड़क में दुकान या बूथ इस प्रकार से न रखे जिसके कारण किसी रूप में सडक पर बाधा उतपन्न हो अथवा

    4. किसी अन्य तरीके से जानबूझकर किसी भी सडक के रासते में बाधा उतपन्न न करे |

  8. (1) छावनी सीमा के भीतर किसी भी सड़क पर यातायात के निम्न वर्गों में से किसी को या तो पूरी तरह या कुछ घंटों के दौरान निषिद्ध किया जा सकता है,जिसके संबंध में छावनी बोर्ड द्वारा अधिसूचित किया जा सकता है |

    1. मोटर लौरीज

    2. बैल गाड़ियां

    3. इक्के

    4. व्यायाम के लिए घोड़े

    5. पालतू जानवरों और

    6. हाथ गाड़ियां सिर्फ वहाँ जहाँ किसी भी अन्य सड़क मार्ग से पहुंचा जा सकता है जैसे एक बंगला, घर या दुकान के लिए वास्तविक क्रासिंग|

    (2) छावनी बोर्ड यातायात के किसी भी वर्ग द्वारा उठाए जाने के लिए विशेष मार्गों को लिख सकते हैं |

  9.  (1) छावनी सीमा के भीतर कोई साईकिल बिना उचित घंटी, ब्रेक और परावर्तक के नही चलाई जायेगी |
    (2) किसी भी सड़क या सार्वजनिक स्थान पर एक साइकिल की सवारी कोई व्यक्ति किसी और व्यक्ति के साथ लापरवाह तरीके से नहि होना चहिये |

  10. पैद्ल यात्रियो के लिये बनाये गये मार्ग पर कोई भी व्यक्ति वाहन अथवा जानवरौ का प्रयोग न करे |

  11. कोई भी व्यक्ति किसी गली में वाहन का प्रयोग तब तक नहीं कर सकता जब तक उसके पास ऐसा करने के लिए कोई उचित कारण नहीं होगा |

  12. कोई भी व्यक्ति ईंटों, कंकर , पत्थर या धातु के साथ भरी हुई वाहन को किसी भी सड़क पर तब तक नही ले जायेगा जब तक वाहन बोर्ड द्वरा दोनो तरफ से सुरक्छित न हो एवम बोर्ड की ऊचाई सरफेस से कम से कम 6 इंच ऊचा होना चाहिये|

  13. वाहन पर सामान को लोड, अंनलोड करते समय, इंचार्ज को वाहन फुट्पाथ के समानांतर तथा पगडंडी के पास रखना होगा, फुट्पाथ न होने पर वाहन को पगडंडी के पास रखना होगा जो कि चक्र यातायात के लिए आरक्षित है|

  14. प्रत्येक मोटर वाहन, कर्षण इंजन या स्टीम रोलर का सवार या ड्राइवर वाहन के साथ, जब भी किसी पशु के नजदीक से गुजरे तब वह विशेष सावधानी के साथ आगे बढे|

  15. छावनी सीमा के भीतर मोटर वाहनों के लिए अधिकतम गति सीमा इस प्रकार है :-
    1-मोटर गाडी, मोटर एम्बुलेंस और मोटर साइकिल के लिए - 25 मील प्रति घंटे|
    2-मोटर लौरीज - 20 मील प्रति घंटे|
    3-कोई घोड़ा गाडी एक ट्रोट की चाल की से तेज न हो, एक सवारी जानवर धीमी गति से कैंटर में आगे बढ़ सकते हैं|

  16. इन उपविधियों में से किसी का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति पर, मजिस्ट्रेट द्वरा सजा का प्राव्धान है जिसके अनतर्गत नियमो के उल्लंघन के मामले में आर्थिक दंड एक हजार रुपए तक हो सकता है, इसके अतिरिक्त सतत उल्लंघन के मामले में बीस रुपए अतिरिक्त प्रति दिन तक का हो सकता है|

    (एल पी डी एल 92 डीडी, 15.6.45-6) एफ आर ई ग्रांट, कर्नल